CBI ने स्कूल से जुटाए सबूत , कंडक्टर समेत रेयान ग्रुप के दोनों अधिकारी रिमांड पर
गुड़गांव.

गुड़गांव.रेयान इंटरनेशनल स्कूल भोंडसी के स्टूडेंट प्रद्युम्न मर्डरकेस में सीबीआई ने शनिवार से जांच शुरू कर दी थी। सीबीआई की टीम ने स्कूल में घटनास्थल टायलेट की जांच की। दूसरी ओर बच्चे की हत्या में मुख्य आरोपी 


- सीबीआई की टीम शनिवार सुबह 10 बजे रेयान इंटरनेशनल स्कूल भोंडसी पहुंची। टीम के साथ फोरेंसिक एक्सपर्ट भी थे। करीब 15 सदस्यीय टीम ने हत्या वाली जगह (टॉयलेट) का मुआयना किया और मौके से जरूरी सबुत जुटाए। के साथ रेयान ग्रुप के दो अधिकारियों को पूछताछ के लिए प्रोडक्शन रिमांड पर ले लिया है। 10 बजे रेयान स्कूल पहुंची सीबीआई टीम...

- सीबीआई ने बच्चे की हत्या में हर एंगल से तफ्तीश की, ताकि पता लगाया जा सके कि बच्चे की हत्या में किसी और का तो हाथ नहीं है। इसके लिए सीबीआई टीम ने एक प्रकार से क्राइम सीन बनाकर देखा। इससे यह पता चला कि आखिर बच्चे को किस प्रकार से मारा गया। इसके बाद माली हरपाल ने उसे किस जगह पर देखा।

- सीबीआई ने टॉयलेट और बाहर गलियारे के अलावा बाहर से भी स्कूल की स्थिति को जांचा। टीम ने हर संभावित सबूतों को मौके से उठाया, जिससे हत्या की कड़ियों को जोड़ा जा सके। 

- जांच के दौरान सीबीआई की टीम का दिनभर स्कूल में आना-जाना लगा रहा। पुलिस स्कूल की कार्यवाहक प्रिंसिपल समेत अन्य स्टाफ से भी मामले में जानकारी ले रही है। इसमें वह दोनों बच्चे भी हैं, जिन्होंने अशोक को टॉयलेट में जाते देखा था।

- गौरतलब है कि केंद्र सरकार के नोटिफिकेशन के बाद सीबीआई ने शुक्रवार रात रेयान के क्लास दो के स्टूडेंट प्रद्युम्न हत्याकांड में केस दर्ज किया था।

तीनों को लेकर सीबीआई टीम दिल्ली गई

- प्रद्युम्न मर्डर केस के मुख्य आरोपी अशोक को सीबीआई ने कोर्ट से एक दिन के प्रोडक्शन रिमांड पर लिया है, जबकि ग्रुप के नॉर्थ हेड फ्रांसिस थॉमस और एचआर हेड जीयूस थॉमस को 25 सितंबर तक रिमांड पर लिया है। टीम ने भोंडसी जेल से दोनों को कोर्ट में पेशकर रिमांड पर लिया।

- सीबीआई की टीम अशोक से प्रद्युम्न मर्डर केस में एक दिन की रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। उसने बच्चे को क्यों मारा, चाकू कहां से लेकर आया था और क्या पहले भी किसी वारदात में शामिल रहा है। 

- अशोक पर हत्या और पॉक्सो एक्ट में केस दर्ज है। दूसरी ओर नॉर्थ हेड और एचआर हेड को जेजे एक्ट में आरोपी बनाया गया है। दोनों पर आरोप है कि स्कूल में सिक्योरिटी कमियो को पूरा नहीं किया गया, जिससे वारदात हुई। 

- दोनों की पूछताछ पर ही सीबीआई रेयान के मालिकों पर शिकंजा कसेगी। तीनों को लेकर सीबीआई टीम दिल्ली लेकर चली गई है।

पिता को विश्वास मिलेगा इंसाफ

प्रद्युम्न के पिता वरुण कुमार ने कहा कि सीबीआई जांच के साथ इस मामले में न्यायपालिका भी सुनवाई कर रही है। दोनों ही संस्थाओं पर उन्हें विश्वास है और अब उम्मीद है कि इंसाफ मिलेगा।

सोमवार से फिर खोला जाएगा स्कूल

- लोकल एडमिनिस्ट्रेशन और रेयान इंटरनेशनल स्कूल के बच्चों के पैरेंट्स के बीच शनिवार को मीटिंग हुई। इसमें स्कूल में उठाए गए सुरक्षा इंतजामों के बारे में पैरेंट्स को जानकारी दी गई। इसके बाद एडमिनिस्ट्रेशन ने सोमवार से स्कूल खोलने का फैसला लिया। 

- रेयान इंटरनेशनल स्कूल भोंडसी में दोपहर बाद पैरेंट्स के साथ डीसी विनय प्रताप, कार्यवाहक डीईओ रामकुमार फलस्वाल समेत अन्य के साथ बैठक हुई। 

- डीसी ने पैरेंट्स को स्कूल की ओर से किए गए सुरक्षा इंतजामों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने पैरेंट्स को विश्वास दिलाया कि सीबीएसई और हरियाणा शिक्षा निदेशालय की ओर से जारी सुरक्षा निर्देशों को स्कूल में लागू कराया जाएगा। 

- उन्होंने कहा कि स्कूल में सीसीटीवी कैमरे अधिकांश जगह पर लगाए गए हैं, पोर्टेबल टॉयलेट की व्यवस्था की गई है। टूटी बाउंड्रीवॉल को कवर किया गया है और दीवार पर फैंसिंग की गई है।

- स्कूल ने 45 महिला कर्मचारियों को तैनाती की है। पैरेट्स ने सुरक्षा इंतजामों पर अपनी चिंताओं से एडमिनिस्ट्रेशन और स्कूल के सामने रखा। 

- पैरेंट्स का कहना है कि तीन महीने के बाद स्कूल कौन देखेगा। इसके अलावा कर्मचारियों और सीसीटीवी समेत अन्य पर जानकारी ली। दूसरी ओर डॉ. श्वेता शर्मा ने बताया कि शनिवार को अभिभावकों की काउंसिलिंग की गई है। सोमवार से बच्चों की नियमित रूप से काउंसिलिंग की जाएगी।

सरकारी स्कूल का प्रिंसिपल स्कूल में तैनात रहेगा

- कार्यवाहक डीईओ रामकुमार फलस्वाल ने बताया कि पैरेंट्स की मांग पर डीसी ने हर दिन एक सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल की रेयान स्कूल पर तैनाती की है। हर एक दिन प्रिंसिपल लोकल एडमिनिस्ट्रेशन की ओर से यहां मौजूद रहेगा। इससे स्कूल की हर एक गतिविधि पर नजर रखी जाएगी।

17पैरेंट्स ने टीसी मांगी

फलस्वाल ने बताया कि 17 पैरेंट्स ने टीसी मांगी है। सोमवार के बाद कोई चाहेगा तो उसे टीसी दे दी जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रशासन हर अभिभावक की मदद कर रहा है।

क्या है मामला?

- रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 8 सितंबर को 7 साल के प्रद्युम्न ठाकुर का मर्डर हो गया था। उसकी बॉडी स्कूल के टॉयलेट में मिली थी।

- उसका गला धारदार हथियार से रेता गया था। पुलिस ने इस मामले में बस कंडक्टर को अरेस्ट किया 

YOUR REACTION?

Facebook Conversations



Disqus Conversations