रत्नधारणकर्ता विघ्नहर्ता, ...जिनके 1.25 लाख सूरती करेंगे दर्शन
सूरत.

सूरत. ये हैं महिधरपुरा के दरिया शेरी के श्रीजी गणपति। सोने-चांदी से सजी यहां की प्रतिमा विशिष्ट होती है। गणपति के हाथ, बाजूबंद, पांव और मुकुट चांदी के हैं, जिन पर सोने की परत के साथ हजारों अमेरिकन डायमंड इस्तेमाल हुए हैं। मूषकराज 7 किलो शुद्ध चांदी के हैं। प्रवीण भाई नानावटी ने बताया कि इस साल पूजा के 45वें वर्ष के उपलक्ष्य में आयोजन काे विशिष्ट रूप दिया जा रहा है।

एक नजर

- 200 मीटर लंबा पंडाल कोलकाता के सूर्य मंदिर की तर्ज पर बना।

- 150 फीट के महल में लगे हैं 90 झूमर, 30 दिनों से हो रहा निर्माण।

- 10 से अधिक बार दरिया शेरी की पूजा राज्य में नंबर वन रही है।

आगे की स्लाइड्स में देखें शहर कहां-कहां विराजे हैं गणपति...

YOUR REACTION?

Facebook Conversations



Disqus Conversations