हरिद्वार खूनी संघर्ष फायरिंग
पद्मावती फिल्म पर टिप्पणी को लेकर खूनी संघर्ष, फायरिंग

पद्मावती फिल्म पर टिप्पणी के बाद हरिद्वार के पथरी क्षेत्र का एक गांव देर रात जंग का मैदान बन गया। दो पक्षों के बीच जमकर पथराव और फायरिंग हुई। खूनी संघर्ष में पांच लोग घायल हो गए। पुलिस ने आनन फानन में गांव पहुंच कर बवाल थामा। इस घटना में कई ग्रामीण घायल हुए हैं।

देश में इन दिनों कई जगहों पर रानी पद्मावती फिल्म को लेकर विवाद और विरोध प्रदर्शन की खबरें सामने आ रही हैं। हरिद्वार में पथरी क्षेत्र के डांडी और अलीपुर गांव के युवकों में गत दिवस फिल्म पर टिप्पणी को लेकर कहासुनी हो गई थी। एक पक्ष सिख समुदाय और दूसरा पक्ष राजपूत समाज से जुड़ा है। उस समय लोगों ने उनके बीच विवाद खत्म करा दिया था। लेकिन देर रात इस मामूली विवाद ने खूनी संघर्ष का रूप ले लिया। 

डांडी गांव के ग्रामीणों के मुताबिक अलीपुर गांव के कुछ युवक लाठी-डंडों और हथियारों से लैस होकर उनके गांव पहुंचे और गांव के कुछ युवकों के साथ मारपीट शुरू कर दी। शोर मचने पर डांडी गांव के ग्रामीण एकत्र हो गए और दोनों पक्षों में जमकर संघर्ष हुआ। दोनों पक्षों की ओर से एक दूसरे के ऊपर पथराव किया गया। इस दौरान हवाई फायरिंग भी हुई। 

सूचना पर पथरी एसओ गजेंद्र बहुगुणा पुलिस फोर्स लेकर गांव पहुंचे और हंगामा करने वालों को खदेड़ते हुए माहौल शांत कराया। हालांकि पुलिस खूनी संघर्ष में ग्रामीणों के घायल होने से इनकार कर रही है। अलबत्ता ग्रामीणों के मुताबिक दोनों पक्षों के कई लोग घायल हुए हैं। वहीं एसओ पथरी गजेंद्र बहुगुणा का कहना है कि फिलहाल माहौल शांत करा दिया गया है। फिलहाल किसी भी पक्ष की ओर से तहरीर नहीं मिली है। दोनों पक्षों को शांति बनाए रखने की हिदायत दी गयी है। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

YOUR REACTION?

Facebook Conversations



Disqus Conversations