स्कूल में लड़की से एक्ट्रा क्लास के बहाने रेप करते रहे टीचर, प्रेग्नेंट हुई तो किया ये हाल
अजीतगढ़ (सीकर)

अजीतगढ़ (सीकर)।सीकर के अजीतगढ़ में दो टीचर एक माह तक अपनी ही 18 साल की स्टूडेंट से सामूहिक दुष्कर्म करते रहे। इतना ही नहीं टीचर्स ने डाक्टरों से मिलीभगत कर उसका गर्भपात भी करा दिया। इस संबंध में पीड़िता के भाई ने बीती रात को सीकर के अजीतगढ़ थाने में केस दर्ज कराया है। केस दर्ज होते ही दोनों आरोपी गायब हो गए। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। पुलिस ने इस मामले में तीन टीमें गठित की हैं। वहीं पीड़िता की हालत नाजुक बनी हुई है। जानिए क्या है मामला ...

- अजीतगढ, एसएचओ मंगलाराम ओला ने बताया कि अजीतगढ़ में हरदास का बांस गांव के जनता बाल विद्या मंदिर सीनियर सेकंडरी स्कूल की 12वीं क्लास की एक छात्रा के साथ पिछले एक महीने से दो शिक्षक दुष्कर्म कर रहे थे।

- स्कूल का संचालक जगदीश यादव और टीचर जगत सिंह गूजर छात्रा को एक्स्ट्रा क्लास के नाम पर स्कूल बुलाते और उसके साथ दुष्कर्म करते थे।

- बच्ची के गुमसुम रहने के बावजूद घरवाले इस सब से बेखबर रहे। छात्रा ने 20 अगस्त के बाद स्कूल जाना बंद कर दिया। पीड़िता के बड़े भाई का बेटा भी उसी स्कूल में पढ़ता था।

- टीचर्स ने उससे पूछा कि तेरी बुआ स्कूल क्यों नहीं आ रही। भाई ने घर आकर यह बात बताई। इस पर छात्रा की मां ने उससे पूछा तो उसने कहा कि मेरे पेट में दर्द है।

भनक लगते ही पहुंच गए अस्पताल

- मां अपने बड़े बेटे के साथ पीड़ित बच्ची को लेकर अस्पताल पहुंची।

- स्कूल संचालक जगदीश यादव को इसकी भनक लग गई। वह अस्पताल पहुंच गया और पीड़िता की मां व भाई से मिला और उन्हें समझाया कि यह अस्‍पताल अच्छा नहीं है, उसकी जान पहचान का शाहपुरा में अच्छा अस्पताल है वहीं बच्ची को दिखाते हैं। वहां पहचान के डाक्टर हैं तो अच्छा इलाज मिल जाएगा।

- मां-बेटे इसके लिए तैयार हो गए और 25 अगस्त को पीड़ित बच्ची को लेकर रजनीश शाहपुरा अस्पताल पहुंचे। वहां जदगीश ने डाक्टरों से बात कर ली थी। रजनीश हॉस्पिटल के डाक्टर कानन शर्मा और रजनीश शर्मा ने पीड़िता का चेकअप किया और उसकी मां से कहा कि बच्ची का तुरंत आपरेशन करना पड़ेगा। घबराई मां ने कागजों पर साइन कर दिए। दोनों डाक्टरों ने ऑपरेशन के नाम पर बच्ची का गर्भपात करवा दिया।

-

हालत बिगड़ी, फिर भाई को बताई सारी बात

- घर लाने के बाद उसकी चार सितंबर को फिर हालत बिगड़ गई। इस पर मां व भाई उसे अस्पताल ले जाने लगे। डरी सहमी बच्ची ने रास्ते में अपने भाई को दुष्कर्म की बात बताई। अस्पताल लाने पर डाक्टरों ने उसका इलाज किया लेकिन हालत में सुधार नहीं होने पर बच्ची को जयपुर रेफर कर दिया।

- सात सितंबर को बच्ची को जयपुर में भर्ती कराया गया। बच्ची सदमे में है। बीती रात को भाई ने अजीतगढ़ लौट कर जगदीश और जगत सिंह के खिलाफ उसकी बहन से सामूहिक दुष्कर्म व उसका गर्भपात कराने का केस दर्ज कराय। रिपोर्ट देरी से दर्ज कराने के बारे में उसने कहा है कि वह अपनी बहन के इलाज में व्यस्त था इसलिए रिपोर्ट दर्ज नहीं करा पाया।

- फिलहाल पुलिस ने धारा 376, 313, 201, 120 के तहत मामला दर्ज कर दिया है।

- केस दर्ज होते ही जगदीश और जगत लापता हो गए। पुलिस ने कई जगह दबिश दी है, लेकिन दोनों का कुछ पता नहीं लगा।

- डाक्टरों की भूमिका संदिग्ध होने पर पुलिस गर्भपात कराने वाले डाक्टरों से भी पूछताछ करेगी।

- इस मामले की जांच डीएसपी, नीम का थाना कुशाल सिंह कर रहे हैं। इस मामले में तीन टीमें गठित की गई हैं।

वर्जन

अजीतगढ, एसएचओ मंगलाराम ओला ने बताया कि हरदास का बांस गांव के जनता बाल विद्या मंदिर सीनियर सेकंडरी स्कूल के संचालक जगदीश यादव और टीचर जगत सिंह गूजर द्वारा स्कूल की छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला पीड़िता के भाई ने दर्ज कराया है। आरोपियों ने डाक्टरों के साथ मिलकर उसका गर्भपात भी कराने की बात कही गई है। मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

YOUR REACTION?

Facebook Conversations



Disqus Conversations