प्रेमिका से मिलाने में दोस्त की करता था मदद, लड़की के पिता ने मार दी गोली
सीवान.

सीवान. दोस्त को उसकी प्रेमिका से मिलाने में मदद करना एक शिक्षक को महंगा पड़ा। गोली लगने के बाद हॉस्पिटल में भर्ती दयाशंकर सिंह से मिलने आ रहे परिजन उनसे एक सवाल बार-बार पूछ रहे हैं कि उसे क्या जरूरत थी अपने दोस्त को लव अफेयर के मामले में मदद करने की। गोली निकाले जाने के बाद से दयाशंकर की हालत में सुधार हो रहा है। मंगलवार को वह हॉस्पिटल में मिलने आए परिजनों से मिले, लेकिन घटना के बारे में ज्यादा बताने से बचते रहे। उन्हें रविवार की रात नौ बजे गोली मारी गई थी। गोली मारने वाला कोई और नहीं उस लड़की का पिता था, जिसे उसका दोस्त प्यार करता था। बेटी के प्रेम संबंध से खफा था पिता...

- दयाशंकर सिंह का दोस्त एक लड़की से प्यार करता है। इस लव स्टोरी में दयाशंकर अपने दोस्त की मदद करता था। लड़की दयाशंकर के घर आती जाती थी।

- लड़की के पिता को जब बेटी की लव स्टोरी का पता चला तो वह दयाशंकर और उसके दोस्त के जान का दुश्मन बन गया। 

- रविवार की रात लड़की के पिता ने अपने साथियों के साथ दयाशंकर सिंह की हत्या की साजिश रची और महादेवा ओपी के पकड़ी मोड़ के पास दयाशंकर और उसके दोस्त के भाई गुड्‌डू को गोली मार दी।

हथियार भी बरामद करने में पुलिस नाकाम

- शहर के पकड़ी मोड़ पर दयाशंकर सिंह समेत दो को गोली मारकर घायल करने के मामले में पुलिस छापेमारी कर रही है। अभी तक कोई भी आरोपी गिरफ्तार नहीं हुआ है।

- यहां तक कि जिस हथियार से गोली मारी गई है। उस हथियार को भी पुलिस बरामद नहीं कर सकी है।

YOUR REACTION?

Facebook Conversations



Disqus Conversations