सूबे में निजाम बदलने का असर दिखाई पड़ने लगा है
टाण्डा तहसील अलीगंज

शराब की दुकान खोले जाने के विरोध में गांव की सैकड़ो ग्रामीण महिलाओं ने हाथ में झाड़ू लेकर कलेक्ट्रट पर विरोध प्रदर्शन किया

सूबे में निजाम बदलने का असर दिखाई पड़ने लगा है अन्याय के विरुद्ध लड़ाई लड़ने के लिए लोग आगे आ रहे हैं अम्बेडकरनगर में एक गांव के पास शराब की दुकान खोले जाने के विरोध में गांव की सैकड़ो ग्रामीण महिलाओं ने  हाथ में झाड़ू लेकर कलेक्ट्रट पर विरोध प्रदर्शन किया और इसे गांव से दूर खोलने की मांग किया।क्योकि इससे गाँव के वातावरण पर गलत प्रभाव पड़ेगा और गांव के पास आधा दर्जन शिक्षण संस्थाएं भी है।मंदिर और मजार भी है

  टाण्डा तहसील के अलीगंज थाना क्षेत्र के त्रिलोकपुर गांव में शराब ठेका की दुकान खुलने पर गाँव की सैकड़ो महिलाए इसके विरोध में खड़ी हो गयी है,इनके साथ महिला ग्राम प्रधान बन्दना कुमारी भी है, इन महिलाओं ने आज हाथ में झाड़ू लेकर कलेक्ट्रेट पर जोरदार  विरोध प्रदर्शन किया

ग्राम प्रधान वन्दना देवी ने बताया कि गांव से बिलकुल निकट मेन रास्ते पर शराब का ठेका खुल रहा रहा है  इसके पास  ही तीन महिला महाविद्यालय सहित आधा दर्जन शिक्षण संस्थाएं ,मंदिर और मजार भी है  जिससे गांव से निकलकर पढ़ने के लिये जाने वाले लड़के लड़कियो पर गलत प्रभाव पड़ेगा। इस ठेके के खुलने से पूरे गांव का वातावरण पर गलत प्रभाव पड़ेगा  डीएम से शराब ठेका वहाँ से दूर हटाने की मांग को लेकर पहुँची महिलाओं का कहना है कि यदि शराब की दुकान गाँव से नही हटा तो वे आगे भी जाएँगी।

अम्बेडकरनगर जनपद में दर्जनों शराब की दुकानें ऐसी है जिसकी वजह से आम जनता को दुःस्वरिया झेलनी पड़ रही है लेकिन शराब माफियाओ के डर के मारे कोई आवाज उठाने की हिम्मत नहीं जुटा पाया लेकिन अब लोगो को इससे निजात की उम्मीद जरूर जागी है

YOUR REACTION?

Facebook Conversations



Disqus Conversations